केंद्र ने बड़ीसादड़ी से नीमच नवीन रेलमार्ग को प्राथमिकता सूची में किया शामिल | Center includes Barisadri to Neemuch new rail route in priority list

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने बड़ीसादड़ी से नीमच वाया छोटीसादड़ी नवीन रेलमार्ग प्राथमिकता की सूची में शामिल करने का फैसला किया है। यह रेलवे लाइन 48.35 किलोमीटर की है। इस फैसले के बाद चित्तौड़गढ़ संसदीय क्षेत्र में रेलवे कार्य में तेजी आएगी। चित्तौड़गढ़ सांसद सीपी जोशी ने इसके लिए रेलवे बोर्ड चैयरमेन से मुलाकात कर मांग की थी।

सांसद जोशी ने इस प्रोजेक्ट में तेजी लाने के लिए रेलवे बोर्ड चैयरमेन सुनित शर्मा और रेलवे बोर्ड के अधिकारीयों के साथ बैठक की थी। इस प्रोजेक्ट को प्राथमिकता सूची में लेने से इस रेलमार्ग के कार्य को गति मिलेगी। रेलवे बोर्ड ने पश्चिम रेलवे को इसे प्राथमिकता में लेने के लिए आदेश भी जारी कर दिए है। इस आदेश के बाद रेलवे की ओर से इस नवीन मार्ग के लिए शीघ्र ही नक्शा तैयार होने के पश्चात भूमि अधिग्रहण का कार्य भी प्रारंभ हो जाएगा। साथ ही चित्तौड़गढ़ से नीमच का रेलवे दोहरीकरण का कार्य भी पूर्ण होने वाला हैं और नीमच से रतलाम मार्ग के दोहरीकरण की परियोजना को कैबिनेट की ओर से मंजुरी प्रदान की जा चुकी है। शीघ्र ही यह परियोजना मूर्त रूप लेगी जिससे चित्तौडगढ से रतलाम तक का मार्ग दोहरीकृत हो जाएगा।

रतलाम से चित्तौड़गढ़, कोटा एवं अजमेर-चित्तौड़गढ़-उदयपुर का रेलवे विद्युतिकरण का कार्य भी करीब करीब पूर्ण हो गया हैं, इससे इस क्षेत्र की जनता को दू्रत गति की रेलगाड़ीयां उपलब्ध हो पाएगी। उदयपुर से अहमदाबाद के आमान परिवर्तन का कार्य आगामी वर्ष 2022 में पूर्ण कर लिया जाएगा। साथ ही मावली से बड़ीसादड़ी के आमान परिवर्तन का कार्य भी वर्ष 2022 तक पूर्ण कर लिया जाएगा।

मावली-बड़ीसादड़ी के आमान परिवर्तन के पश्चात बड़ीसादड़ी से नीमच वाया छोटीसादड़ी के रेलमार्ग के बनने के पश्चात इस क्षेत्र का सम्पर्क पुरे देश में सुलभ हो सकेगा। इससे मावली, वल्लभगनर, खेरोदा, भीण्डर, कानोड़, बानसी, बोहेड़ा, बड़ीसादड़ी, छोटीसादड़ी से नीमच मार्ग से रेलमार्ग से सम्पूर्ण देश से यह क्षेत्र जुड़ जाएगा। इससे संसदीय क्षेत्र में विकास कार्य को त्रीवता मिलेगी। संसदीय क्षेत्र चित्तौड़गढ़ में रेलवे के कार्यो में प्रगति के लिये सांसद जोशी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव और रेलवे बोर्ड चैयरमेन सुनित शर्मा का आभार व्यक्त किया।

टिप्पणियाँ

लोकप्रिय पोस्ट

18 अप्रैल से चंगेरा (जावद चौराहा) स्थित नई मंडी में भी शुरू होगा कारोबार, व्यापारियों व मंडी बोर्ड ने लिया बड़ा निर्णय, अब पुरानी मंडी में नहीं होगी गेहूं की नीलामी